Home » Cover Story » आईएसआईएस समर्थक होने के संदेह में 103 भारतीय गिरफ्तार

आईएसआईएस समर्थक होने के संदेह में 103 भारतीय गिरफ्तार

चैतन्य मल्लापुर,
Views
1958

 

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए), केंद्रीय आतंकवाद विरोधी कानून प्रवर्तन एजेंसी और अन्य राज्य सुरक्षा एजेंसियों द्वारा 14 राज्यों से इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड सीरिया (आईएसआईएस) के साथ सहानुभूति रखने वाले कम से कम 103 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जैसा कि सरकारी आंकड़ों से पता चलता है।

 

सबसे ज्यादा आबादी वाले राज्य, उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा गिरफ्तारियां हुई है। उत्तर प्रदेश के लिए यह आंकड़े 17 रहे हैं। जबकि 16 के आंकड़े के साथ महाराष्ट्र और तेलंगाना,  14 के साथ केरल और 8 के साथ कर्नाटक दूसरे, तीसरे और चौथे स्थान पर रहे हैं, जैसा कि 20 दिसंबर, 2017 को गृह मामलों के मंत्रालय के राज्य मंत्री हंसराज गंगाराम अहिर ने राज्य सभा को दिए एक जवाब में बताया है।

 

14 राज्यों में हुई सभी गिरफ्तारियों में से इन राज्यों की हिस्सेदारी 69 फीसदी है।

 

संसद को दिए गए जवाब में राज्य मंत्री अहिर ने कहा कि “केंद्रीय और राज्य सुरक्षा एजेंसियों के ध्यान में बहुत कम लोग ( भारत से ) आए हैं जो आईएसआईएस में शामिल हुए हैं। ”

 

तेलंगाना राज्य में प्रति 100,000 मुस्लिम आबादी पर सबसे ज्यादा गिरफ्तारियां हुई हैं। इसके बाद उत्तराखंड, केरल, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र का स्थान रहा है।

 

राज्य के अनुसार भारत में गिरफ्तार आईएसआईएस समर्थक

Source: Rajya Sabha; Population data from Census 2011; Telangana Statistical Year-Book 2017.

 

एनआईए ने 17 दिसंबर, 2017 को केरल के कन्नूर जिले से पांच आईएसआईएस समर्थकों के खिलाफ मामला दर्ज किया था, जैसा कि टाइम्स ऑफ इंडिया ने 17 दिसंबर, 2017 की रिपोर्ट में बताया है। यह मामले गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम अधिनियम, 1967 के तहत पंजीकृत किए गए थे।

 

भारतीय युवाओं को आईएसआईएस ऑपरेटिव्स द्वारा घर, मांस, चॉकलेट और महिलाओं की पेशकश के जरिए लालच दिया जाता है, जैसा कि इंडिया टुडे ने 30 मई, 2017 की रिपोर्ट में बताया है।

 

इंडिया टुडे ने 11 नवंबर, 2017 की रिपोर्ट में बताया है कि, केरल पुलिस के अनुसार, कुछ वर्षों में राज्य से 100 से अधिक लोगों पर आईएसआईएस से जुड़े होने का संदेह किया है।

 

2016 में रोजाना 25 मौतों के लिए आईएसआईएस जिम्मेदार

 

आईएसआईएस एक नामित वैश्विक आतंकवादी संगठन है जिसने आतंकवादी कृत्यों को उकसाने वाले हिंसक चरमपंथी विचारधारा वाले हजारों विदेशी सैनिकों की भर्ती की है।

 

अमेरिका के राज्य विभाग द्वारा जुलाई 2017 को जारी आतंकवाद पर देश की रिपोर्ट के अनुसार 2016 में किसी भी आतंकवादी संगठन द्वारा आईएसआईएस सर्वाधिक हमलों (1,133) और मौतों (9, 114) के लिए जिम्मेदार था।

 

2016 में, दुनिया भर में हर दिन आईएसआईएस लगभग 25 मौतों के लिए जिम्मेदार था ( अपराधियों सहित )। 2015 की तुलना में यह आंकड़ा प्रतिदिन 17 मौतों का था।

 

2016 में विश्वभर में सबसे अधिक हमलों के साथ टॉप 5 आतंकवाद समूह 2016

Source: Department of State, United State of America, Note: * Includes perpetrators; ** Excludes attacks attributed to branches of ISIS or ISIS-inspired individuals

 

आईएसआईएस के कारण हुई मौतों में 48 फीसदी की वृद्धि हुई है। यह आंकड़े 2015 में 6,178 से बढ़ कर 2016 में 9,114 हुए हैं, जबकि आईएसआईएस द्वारा अपहरण या व्यक्तियों को बंधक बनाने की संख्या में 74 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। यह आंकड़े 2015 में 4,805 से बढ़कर 2016 में 8379 हुए हैं।

 

सीरिया और इराक के बाहर आईएसआईएस द्वारा किए गए हमलों में 80 फीसदी की वृद्धि हुई है, 2015 में 44 से बढ़कर 2016 में 79 हुए हैं।

 

(मल्लापुर विश्लेषक हैं और इंडियास्पेंड के साथ जुड़े हुए हैं।)

 

यह लेख मूलत: अंग्रेजी में 26 दिसंबर 2017 को indiaspend.com पर प्रकाशित हुआ है।

 

हम फीडबैक का स्वागत करते हैं। हमसे respond@indiaspend.org पर संपर्क किया जा सकता है। हम भाषा और व्याकरण के लिए प्रतिक्रियाओं को संपादित करने का अधिकार रखते हैं।

 
__________________________________________________________________

“क्या आपको यह लेख पसंद आया ?” Indiaspend.com एक गैर लाभकारी संस्था है, और हम अपने इस जनहित पत्रकारिता प्रयासों की सफलता के लिए आप जैसे पाठकों पर निर्भर करते हैं। कृपया अपना अनुदान दें :

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*