Home » नवीनतम रिपोर्ट

व्हाइट-कॉलर नौकरी करने वाले भारतीयों को मोटापा और कमजोर स्वास्थ्य का जोखिम ज्यादा

व्हाइट-कॉलर नौकरी करने वाले भारतीयों को मोटापा और  कमजोर स्वास्थ्य का जोखिम ज्यादा

  मुंबई: ब्लू-कॉलर व्यवसायों में काम करने वाले लोगों की तुलना में, दिन में बेहद कम गतिविधियों के साथ व्हाइट-कॉलर नौकरियां करने वाले भारतीयों का औसत बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई)…

केरल के श्रमिक केंद्रों में, नोटबंदी के बाद प्रवासी श्रमिकों की हालत बदतर

केरल के श्रमिक केंद्रों में, नोटबंदी के बाद प्रवासी श्रमिकों की हालत बदतर

(बंगाल के मुर्शिदाबाद के निरक्षर राजमिस्त्री जलालुद्दीन शेख सात साल पहले केरल के कोच्चि आए थे। नवंबर 2016 तक, उन्होंने हर महीने 22,000 रुपये कमाए, जिसमें से 15,000 रुपये घर…

2019 में चुनाव लड़ने के लिए भारत को अधिक महिला उम्मीदवारों की जरुरत

2019 में चुनाव लड़ने के लिए भारत को अधिक महिला  उम्मीदवारों की जरुरत

  मुंबई: अपने राष्ट्रीय संसदों में निर्वाचित महिला प्रतिनिधियों के प्रतिशत के आधार पर 193 देशों की 2019 सूची में भारत 149 वें स्थान पर रहा है। पाकिस्तान, बांग्लादेश और…

जयपुर की जर्जर अनौपचारिक अर्थव्यवस्था में ग्रेजुएट, फैक्ट्री मालिक और किसानों को श्रमिक नौकरियों की तलाश

जयपुर की जर्जर अनौपचारिक अर्थव्यवस्था में ग्रेजुएट, फैक्ट्री मालिक और किसानों को श्रमिक नौकरियों की तलाश

  ( जयपुर के मार्केट स्काव्यर में कॉन्ट्रैक्टर का इंतजार करते दिहाड़ी मजदूर। नोटबंदी और गुड्स एंड सर्विस टैक्स के बद्तर कार्यान्वयन और चीनी के द्वारा संचालित वस्तुओं से प्रतिस्पर्धा…

गंगा के मैदान में 6 करोड़ भारतीय वायु प्रदूषण और बदलते जलवायु के प्रभाव को करते हैं महसूस

गंगा के मैदान में 6 करोड़ भारतीय वायु प्रदूषण और बदलते जलवायु के प्रभाव को करते हैं महसूस

  (जब पीएम 2.5 को मापा गया तो ये सामने आया कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी का लोकसभा क्षेत्र वाराणसी (ऊपर) दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में से एक है।…

भारत में प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण के लिए पिछड़े क्षेत्रों में बैंकों की आवश्यकता है, आधार कार्ड की नहीं…

भारत में प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण के लिए पिछड़े क्षेत्रों में बैंकों की आवश्यकता है, आधार कार्ड की नहीं…

  ( माना जाता है कि नकद हस्तांतरण में कोई परेशानी नहीं होती है, लेकिन गरीबों के लिए शायद ऐसा नहीं है: कई लोगों को दूर और भीड़ वाले बैंकों…

भारतीय लड़कियों के होते हैं सपने, लेकिन विपरीत परिस्थिति और अवसर के अभाव का करती हैं सामना

भारतीय लड़कियों के होते हैं सपने, लेकिन विपरीत परिस्थिति और अवसर के अभाव का करती हैं सामना

  ( 19 वर्षीय फरहीन चौधरी, मुंबई के सबसे बड़े मलिन बस्तियों में से एक, गोवंडी में काम करने वाली गैर-लाभकारी संस्था, अपनालया में एक संरक्षक यानी मेंटर के रूप…

Page 1 of 166123Next ›Last »